Video: पिथौरागढ: कोरोना काल में संकटमोचन बने पूर्व पंचायत अध्यक्ष किशन भंडारी, की एक अनोखी पहल

दीपक जोशी की रिपोर्ट: 
पिथौरागढ: वैश्विक महामारी कोरोना को मध्नजर जनपद पिथौरागढ के कनालीछीना विधानसभा डीडीहाट निवासी प्रमुख समाजसेवी ने महामारी को देखते हुऐ आमजन की समस्या को देखते हुऐ स्वंम की और विधानसभा डीडीहाट, कनालीछीना, व मूनाकोट में स्वप्रयासों से जीवनदायिनी निशुल्क ऐबुलेंस की सुविधा मुहैया कराने की अनोखी पहल कर दी।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में कोविड का तूफ़ान जारी: आज 96 मरीज़ों की मौत, 5703 नए कोविड-19 मरीज, स्वास्थ हुए मरीज़ों की आज की संख्या 1471, देहरादून में 2218

आपको बता दें कि समाजसेवी भंडारी को क्षेत्रीय जनता द्वारा प्रमुख समस्या के तौर पर बताया गया कि दूरस्थ क्षेत्र एंव सीमांत विधानसभा डीडीहाट में बतौर सरकार की और से ऐबुलेंस तो है, लेकिन सीमित मात्रा में। आज की महामारी को ध्यान में रखते हुए यह इतने बडे क्षेत्र में सुचारू रुप से कार्य करने में असमर्थ है, क्योंकि दूरस्थ क्षेत्र होने के कारण वाहन में अनेक प्रकार की समस्या आ सकती है, जिसके लिए मरीज को सुविधा मिलने में दिक्कत का सामना करना पढ सकता है। जिसके चलते भंडारी ने 24 घंटे ऐबुलेंस सेवा देने का वादा किया।
डीडीहाट विधानसभा की जनता ने सराहना की भंडारी ने बताया कि उनके द्वारा सेवा में समर्पित ऐबुलेंस की सेवा विधानसभा के हर जरूरतमंद को मिलेगी जिसका कोई शुल्क नही रखा गया है।