बागेश्वर: जिलाधिकारी विनीत कुमार ने किया तहसील गरुड़ का औचक निरीक्षण, दिए यह निर्देश

दीपक जोशी की जोशी;
बागेश्वर 04 फरवरी, 2021: जिलाधिकारी विनीत कुमार ने तहसील गरूड़ का औचक निरीक्षण कर वहॉ की व्यवस्थाओं आदि का जायजा लिया। उन्होंने निरीक्षण के दौरान तहसील में स्थापित जनाधार केन्द एवं रिकार्ड रूम एवं विभिन्न पंजिकाओं का निरीक्षण कर विस्तारपूर्वक जानकारी प्राप्त की। इस दौरान उन्होंने तहसील में उपलब्ध आपदा से संबंधित उपकरण, टेलीफोन, फैक्स, रिकार्ड रूम, प्रमाण पत्र कक्ष सहित पटलों का भी निरीक्षण किया तथा सभी पटल सहायकों को निर्देश दिये कि जो भी प्रकरण एवं जो भी जनसमस्यायें प्राप्त होती है उसे समयानुसार निराकरण करें और तहसील से निर्गत किये जाने वाले प्रमाण पत्रों को भी समय से बनाकर लाभार्थियों को उपलब्ध करायें और पंजिकाओं का रख रखाव ठीक ढंग से करने के निर्देश दिये। जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारी को नियमित रूप से कोर्ट लगाने एवं जल्द से जल्द लम्बित मामलों का निस्तारण करने के भी निर्देश दिये। उन्होंने एक वर्ष से अधिक की अवधि से लम्बित मामलों के त्वरित निस्तारण हेतु आवश्यक कार्यवाही करते हुए जनसमस्याओं का तेजी से निस्तारण करने के निर्देश दिये। इसके साथ ही उन्होंने यह भी निर्देश दिये कि तहसील अन्तर्गत समस्त खतौनियों का कम्प्यूटरीकरण किया जाय तथा जनसामान्य के विभिन्न प्रमाण पत्र आदि को निर्धारित समयानुसार उपलब्ध कराये जाय।
उन्होंने यह भी निर्देश दिये है कि संबंधित अधिकारियों वसूली में तेजी लाते हुए बड़े बकायेदारों के विरूद्ध आवश्यक कार्यवाही करते हुए उनसे तत्काल वसूली की कार्यवाही सुनिश्चित की जाय, इसमें किसी भी प्रकार से कोई लापरवाही न बरती जाय तथा शतप्रतिशत वसूली सुनिश्चित कराने के निर्देश दिये। निरीक्षण के दौरान उप जिलाधिकारी गरूड़ ने जिलाधिकारी को अवगत कराया कि तहसील गरूड़ में जुडीसियरी का कार्य किया जा रहा है, जिसमें पर्याप्त जगह न होने के कारण कार्य करने में दिक्कत हो रही है जिसके लिए जिसके लिये जिलाधिकारी ने उप जिलाधिकारी को निर्देश दिये है कि जुडीसियरी के लिए भूमि चिन्हित कर के लिये प्रस्ताव तैयार करते हुए रेवन्यू बोर्ड को प्रेषित करने के निर्देश दिये, ताकि जुडीसियरी के लिए भूमि उपलब्ध हो सके व जुडीसियरी के लिये अलग भवन तैयार किया जा सके, जिससे उनके कार्य ठीक प्रकार से संपादित हो सके। जिलाधिकारी ने संबंधित पटल सहायकों को निर्देश दिये है कि सीएम हैल्पलाइन एवं सूचना अधिकार अधिनियम के तहत जो भी शिकायतें प्राप्त होती है, उन शिकायतों का समय सीमा के अन्तर्गत शीर्ष प्राथमिकता के साथ निस्तारण करना सुनिश्चित करें इसमें किसी भी प्रकार की कोई ढिलाई न की जाय। निरीक्षण के दौरान जिलाधिकारी ने तहसील में सभी व्यवस्थायें दुरूस्त पायी गयी।
निरीक्षण के दौरान उप जिलाधिकारी गरूड़ जयवर्द्धन शर्मा, जिला पूर्ति अधिकारी अरूण कुमार वर्मा, नायब तहसीलदार गरूड़ तितिक्षा जोशी सहित संबंधित पटल के अधिकारी एवं कर्मचारी आदि मौजूद रहें।