नैनीताल में रागों पर आधारित होली गायन की धूम

ललित जोशी की रिपोर्ट;
नैनीताल: उत्तराखंड में जहाँ जगह जगह होली गायन का कार्यक्रम होता है, वही सरोवर नगरी नैनीताल के नव सांस्कृतिक सत्संग समिति रामलीला कमेटी के होल्यारों द्वारा रविवार पूस माह से बैठकी होली का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें दिल्ली से आये वरिष्ठ होल्यार निधि जोशी ने रागों पर आधारित होली गायन शुरू किया। उन्होंने कहा यह होली गायन होता है। इसमें राग पीलू, खम्माच, काफी, जंगला काफी, भैरवी आदि रागों को गाया जाता है। समिति अध्यक्ष खुशाल सिंह रावत ने कहा कि समिति द्वारा पूस माह से लगातार होली का आयोजन किया जा रहा है। यह समय के अनुसार रागों पर होली गायन किया जाता है। उन्होंने सभी लोगों को होली की शुभकामनाएं दी।
समिति के सचिव पूरन चन्द्र पांडे ने कहा कि समिति द्वारा समय समय पर कई कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। जिसमें महिलाओं की होली, रामलीला मंचन, कृष्ण जन्माष्टमी पर्व, शादी विवाह कार्यक्रम, देवी भागवत, छोटे छोटे बच्चों की होली कार्यशाला आदि कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं। इसी क्रम में चेत राम साह थुलघरिया इंटर कालेज के प्रधानाचार्य मनोज कुमार पाड़े ने कहा कि आज युवा पीढ़ी त्योहारों पर कोई विशेष महत्व नहीं देती। हम लोगों को युवा पीढ़ी को आगे लाना होगा।
वहीँ प्रकाश जोशीका कहना था कि होली त्यौहार ऐसा त्यौहार है जिसमें लोग मनमुटाव को भुलाकर आपस में गले लगते हैं। इस मौके पर ललित जोशी, राकेश कुमार, इंद्र सिंह रावत, नवीन बेगाना, गौरव जोशी, नवीन, योगेंद्र पांडे, चन्दन जोशी कई होल्यार मौजूद रहे।