घर से लाखों रुपये के डायमंड, सोने की ज्वैलरी व नगदी चोरी करने वाले तीन अभियुक्त चोरी किए हुए माल के साथ गिरफ्तार

देहरादून: दून पुलिस से सूचना प्राप्त हुई कि दिनांक 18 फरवरी 2021 को थाना रायपुर में शिकायतकर्ता रवि गुलेरिया पुत्र स्वर्गीय जयचंद गुलेरिया निवासी मकान नंबर दशमेश बिहार थाना रायपुर देहरादून के द्वारा एक तहरीर दी गई कि दिनांक 17 फरवरी 2021 को अपनी पत्नी के साथ खरीददारी करने बाजार गया था,  दिनांक 18/02/2021 की रात्रि में जब वह घर वापस आये तो घर से किसी अज्ञात चोरों द्वारा ज्वेलरी व नगदी व अन्य कीमती सामान चोरी कर लिया है। शिकायतकर्ता की उक्त शिकायत पर थाना रायपुर में अज्ञात अभियुक्तों के विरुद्ध मुकदमा अपराध संख्या 82/2021 धारा 380 पंजीकृत कर विवेचना प्रारंभ की गई।
चोरी की घटना पर पुलिस टीमे गठित कर घटनास्थल के आसपास लगे घरों, संस्थानों, दुकानों व पुलिस कंट्रोल रूम द्वारा लगाए गए सीसीटीवी कैमरा का बारीकी से निरीक्षण किया गया। घटनास्थल के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरा के अवलोकन में एक केटीएम मोटरसाइकिल में तीन संदिग्ध लड़के बैठे हुए दिखाई दिए जिनके घटनास्थल पर आने जाने वाले मार्ग को ट्रैक किया गया व संदिग्धों के फोटोग्राफ्स प्राप्त कर सुराग रसी पतारसी की गई जिस पर मुखबिर की सूचना पर उपरोक्त घटना में शामिल तीनों अभियुक्तों को मुखबिर की सूचना पर थाना रायपुर क्षेत्र में अलग-अलग स्थानों से गिरफ्तार किया गया। जिनके कब्जे से चोरी का माल व घटना में प्रयुक्त मोटरसाइकिल बरामद हुई है।
अभियुक्त संतोष रावत उर्फ माते पुत्र धीरज सिंह रावत निवासी नई बस्ती क्लेमेन्टाउन देहरादून, शुभम नेगी पुत्र राजेंद्र सिंह नेगी निवासी ग्राम पाबो पौड़ी गढ़वाल हाल नयाँ गांव विजयपुर हाथीबड़कला डालनवाला देहरादून व आशीष उम्र 27 वर्ष पुत्र दीवान सिंह रावत निवासी ग्राम बेरगड़ी पाली चंबा टिहरी गढ़वाल हाल 12 न्यू सर्वे रोड डालनवाला देहरादून के रहने वाले है।
बरामदगी में एक डायमंड मंगलसूत्र पेंडल, एक जोड़ी डायमंड टॉप्स, दो डायमंड रिंग, दो सफेद धातु की अंगूठी, एक सफेद धातु की चैन, एक पीली धातु की चेन, दो घड़ी cruiser कम्पनी, एक सफेद धातु की चेन, 9 सफेद धातु के छागले (चूड़ी), एक जोड़ी पायजेब सफेद धातु, एक बेल्ट, एक पर्स ब्राउन कलर, एक टाई, मोटर साइकिल UK07-DR- 8214 (घटना में प्रयुक्त) व ज्वेलरी बेचकर प्राप्त किए गए एक लाख रूपए जो कि अभियुक्त संतोष रावत द्वारा अपने बैंक खाते में जमा कराए गए हैं को भी संबंधित बैंक के माध्यम से सीज करवाया गया है। अभियुक्त संतोष रावत उर्फ माते थाना क्लेमेंट टाउन क्षेत्र का हिस्ट्रीशीटर है जिस पर चोरी नकबजनी आदि के लगभग 20 से अधिक मुकदमे दर्ज है।
पूछताछ में अभियुक्त गणों द्वारा बताया गया कि दिनांक 17-02-2021 को हम लोगों द्वारा डीएल रोड पर एक होटल में एक कमरा लिया था। वहीं पर हम लोगों द्वारा बंद घरों में चोरी करने का प्लान बनाया। हम लोग अंधेरा होने पर मोटरसाइकिल नंबर uk07 डीआर 8214 से दशमेश बिहार एक घर के पास पहुंचे तो देखा कि रात्रि 21:30 बजे घर के बाहर गेट पर ताला लगा था, जिससे हमें पता चला कि घर पर कोई नहीं है। थोड़ी देर हमने घर की रेकी की तथा कुछ देर बाद संतोष घर के अंदर दाखिल हो गया तथा हम दो लोग घर के बाहर खड़े होकर आने जाने वाले लोगों पर नजर रखने लग गए। घर से चोरी कर हम लोग रात भर होटल में रुके जहां पर हम लोगों द्वारा चोरी के सामान को बांटकर अगले दिन वहां से चले गए व चोरी की कुछ ज्वेलरी पलटन बाजार स्थित लखनऊ ज्वेलर्स को बेचनी बताई गई है। अभियुक्त संतोष रावत उर्फ माते द्वारा बताया गया कि वादी के घर से चोरी की गई नगदी व ज्वैलरी बेचकर प्राप्त रुपयों में से 100000 इसके द्वारा अपने पीएनबी बैंक में जमा कराए गए हैं, जिस पर संबंधित बैंक के माध्यम से उक्त बैंक खाते को सीज करवाया गया है। अभियुक्त गणों को  न्यायालय के समक्ष पेश किया जा रहा है।
गठित पुलिस टीम में क्षेत्राधिकारी पल्लवी त्यागी, थानाध्यक्ष दिलबर सिंह नेगी, वरिष्ठ उपनिरीक्षक आशीष रावत, उप निरीक्षक सुमेर सिंह, कां0 महेश उनियाल, कां0 सुनील पवार, कां0 नरेंद्र, कां0 दीपप्रकाश, कां0 आशीष शर्मा व कां0 किरन कुमार (SOG) शामिल थे