बागेश्वर: व्यवसायिक रंजिश के चलते कर दी मममेरे भाई की हत्या, जंगल में मिली सड़ी गली जली लाश

बागेश्वर: व्यवसायिक रंजिश के चलते एक युवक ने रिश्ते के ममेरे भाई की हत्या कर दी। 18 फ़रवरी को 22 वर्षीय मृतक राशिद के पिता ने गुमशुदगी की रिपोर्ट बैजनाथ थाने में दर्ज करवाई थी। 12 दिन बाद पुलिस ने मामले का खुलासा कर अभियुक्त को गिरफ्तार कर लिया है।
बहेड़ी निवासी 20 वर्षीय दानिश पुत्र मेहंदी हसन गरुड़ में 8 सालों से राज मिस्त्री का कार्य करता था। डेढ़ वर्ष पूर्व उसने अपने ममेरे भाई राशिद पुत्र मुहम्मद नबी को भी काम करने के लिए गरुड़ बुलाया। समय के साथ राशिद का काम गरुड़ में बढ़ते गया। जिससे दानिश के मन मे उसके प्रति व्यवसायिक रंजिश हो गयी और दानिश ने राशिद को आपसी मतभेद के चलते हत्या करने की योजना बनाई।

यह भी पढ़ें: Video: उत्तराखंड बजट सत्र का दूसरा दिन: प्रदर्शनकारियों पर पुलिस द्वारा लाठियां बरसाने वाले मामले में मुख्यमंत्री ने कही यह बातें

शक के चलते पुलिस ने सख्ती से दानिश से पुछताछ की जिसमे दानिश ने पुरा सच पुलिस को बताया कि गत 18 फरवरी को दानिश ने घर जाने का बहाना बनाया, दानिश ने राशिद के दो साथियों रिजवान व हारुन को  साथ भेज दिया। जबकि राशिद को साथ लेकर स्वयं घर को रवाना हुआ लेकिन वह राशिद को घर ले जाने के बजाय अणा-लोहारचोरा के बीच जंगल मे ले गया और जंगल में ले जाने के बाद राशिद की हत्या कर दी। फिर पुलिस ने घटनास्थल में पहुंच कर राशिद का शव बरामद किया। पुलिस अधीक्षक ने भी घटना स्थल पर पहुंच कर पूरे मामले का खुलासा किया।
सड़ी गली जली हुई शव के शिनाख्त के लिए राशिद के परिजन को मौके पर बुलाया गया। तत्पश्चात शव की पोस्टमार्टम के जिला अस्पताल भेजा गया किन्तु ज़िला अस्पताल से शव को पोसटमार्टम के लिए हल्द्वानी भेज दिया गया है। अभियुक्त पर संबन्धित धारो में मामला दर्ज कर लिया गया है।
देखें इस मामले में क्या कुछ कहना है  एसपी बागेश्वर अमित कुमार का