कुम्भ में सन्तों को शिविर स्थापित करने हेतु भूमि आबटंन व अन्य सुविधाओं को प्राप्त करने में हो रहे विलम्ब को लेकर पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने मुख्यमंत्री को लिखा पत्र

हरिद्वार: कुम्भ में सन्तों को शिविर स्थापित करने हेतु भूमि आबटंन व अन्य सुविधाओं को प्राप्त करने में हो रहे विलम्ब तथा कठिनाईयों के सम्बन्ध में प्रदेश पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने मुख्यमंत्री को पत्र लिखा है।
पत्र में उपाध्याय ने लिखा है कि “हरिद्वार में कुम्भ का आयोजन सनातन धर्म के लिये गर्व का विषय है और विश्व का सनातन धर्मी अगर कुम्भ स्नान का सौभाग्य प्राप्त कर लेता है तो स्वयं को धन्य मानता है और अपने जन्म को सफल मानता है। मैं आपके संज्ञान में लाना चाहता हूँ कि मुझे कई साधु-सन्तों और तपस्वियों ने अवगत कराया है कि उन्हें अपने शिविर स्थापित करने के लिये भूमि व अनुमन्य सुविधाओं को प्राप्त करने में कठिनाईयों का सामना करना पड़ रहा है। पूर्व में सम्पन्न हुये कुम्भ में उन्हें समय पर भूमि और अन्य सुविधायें प्राप्त हो गयी थीं, लेकिन इस समय उस तरह की तत्परता और संवेदनशीलता का वे अभाव महसूस कर रहे हैं। मैं इस पत्र को मेलाधिकारी को भी प्रेषित कर रहा हूँ।” उपाध्याय ने आगे लिखा है कि “आप संज्ञान लेंगे और पूज्य साधु समाज को रही असुविधा को दूर करने के निर्देश देने का कष्ट करेंगे।’

यह भी पढ़ें: आयुष्मान योजना का लाभ दिलाने को शासन में दी मोर्चा ने दस्तक, 250 करोड़ खर्च होने के बाद भी इलाज से लोग वंचित, सरकार की योजना को अधिकांश अस्पताल लगा रहे पलीता! नेगी