साइबर बुलेटिन: दिनांक 26 फरवरी 2021, साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन देहरादून द्वारा जारी

देहरादून: स्पेशल टास्क फोर्स उत्तराखंड के अंतर्गत साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन देहरादून द्वारा आज दिनांक 26  फरवरी 2021 की साइबर बुलेटिन: 
  • जनपद देहरादून निवासी व्यक्ति के द्वारा साईबर क्राईम पुलिस स्टेशन उत्तराखण्ड़ को प्रार्थना पत्र प्रेषित किया गया जिसमें उनके द्वारा अवगत कराया गया है, कि उनके 70 वर्षीय बुर्जग पिता जो कि वोडाफोन कम्पनी का सिम प्रयोग करते है, को एक अज्ञात व्यक्ति द्वारा फोन के माध्यम से सम्पर्क कर स्वंय को वोडाफोन कम्पनी का मैनेजर बताकर उनके पिता को 51 लाख की लाटरी व कार इनाम जीतने की बात कहकर उनसे उक्त ईनाम की राशि व कार प्राप्त करने हुते विभिन्न प्रोसेसिग चार्ज के रुप में 18,00,000/- लाख रुपये विभिन्न बैक खातो मे प्राप्त कर धोखाधडी की गयी है। प्रकरण में थाना साईबर क्राईम पर अभियोग पंजीकृत किया गया है।
  • जनपद देहरादून निवासी एक महिला द्वारा साईबर क्राईम पुलिस स्टेशन देहरादून उत्तराखण्ड़ में प्रार्थना पत्र प्रेषित किया गया, जिसमे उनके द्वारा बताया गया कि उनके द्वारा मोबाइल फोन के माध्यम से पिज्जा आर्डर किया गया था किन्तू किन्ही कारणों से आर्डर नही हो पा रहा था, जिस पर एक अज्ञात व्यक्ति द्वारा उन्हे मोबाइल फोन के माध्यम से सम्पर्क कर स्वंय को पिज्जा सेन्टर से बताते आर्डर के सम्बन्ध में बताकर आर्डर हेतु लिंक भेजकर एटीएम कार्ड की जानकारी दिये जाने को कहा, जिस पर शिकायतकर्ता द्वारा उक्त को अपने एटीएम कार्ड की जानकारी प्रदान कर दी गयी, जिससे उक्त अज्ञात व्यक्ति द्वारा शिकायतकर्ता के खाते से 55000/- रुपये धोखाधडी से निकाल लिये गये। प्रकरण में थाना साईबर क्राईम पर अभियोग पंजीकृत किया गया है।
  • जनपद पिथौरागढ निवासी एक व्यक्ति द्वारा साईबर क्राईम पुलिस स्टेशन देहरादून उत्तराखण्ड़ में प्रार्थना पत्र प्रेषित किया गया, जिसमे उनके द्वारा बताया गया कि एक व्यक्ति द्वारा शिकायतकर्ता को फोन के माध्यम से सम्पर्क कर स्वंय को मदर डेरी फेन्चाइजी से बताते हुये मदर डयेरी की डीलर शिप दिलाने के नाम पर 49500/- रुपये विभिन्न शुल्क के रुप मे प्राप्त कर धोखाधडी की गयी। उक्त शिकायत की जांच थाना साईबर क्राईम से उ0नि0 हिम्मत सिह द्वारा की गयी प्रकरण में अभियोग पंजीकृत किया गया।
  • जनपद देहरादून निवासी व्यक्ति के द्वारा साईबर क्राईम पुलिस स्टेशन उत्तराखण्ड़ को प्रार्थना पत्र प्रेषित किया गया जिसमें उनके द्वारा अवगत कराया गया है, कि उनके पुत्र द्वारा अपने पंजाब नेशनल बैक में स्थित बैक खाते को यूपीआई से जोडने हेतु गूगल पर पंजाब नेशनल बैक का कस्टमर केयर नम्बर खोजा गया व उक्त नम्बर पर फोन किया गया, तो अज्ञात व्यक्ति द्वारा स्वंय को पंजाब नेशनल बैक से बताते हुये शिकायतकर्ता के पुत्र से उसके खाते की जानकारी प्राप्त कर लिंक भेजा गया, जिस पर उनके पुत्र द्वारा लिंक पर क्लिक करते हुये उसके खाते से अज्ञात व्यक्ति द्वारा 1,41000/- रुपये धोखाधडी से निकाल लिये गये। प्रकरण में थाना साईबर क्राईम पर अभियोग पंजीकृत किया गया है।

यह भी पढ़ें: 5400 करोड़ लागत से 250 किमी राष्ट्रीय राजमार्गों का हुआ लोकार्पण व शिलान्यास, दिल्ली-देहरादून एक्सप्रेस वे से 2 घंटे में पहुंचा जा सकेगा देहरादून

साईबर सुरक्षा टिप
कभी भी अपनी व्यक्तिगत या बैंकिग डिटेल्स फोन व वाट्सअप कॉल पर किसी से भी साझा न करें । कोई भी बैंक या वॉलेट आपको फोन कर आपकी बैंकिग डिटेल नही मांगता है। कृपया गूगल या अन्य किसी सर्च इंजन पर किसी कम्पनी / बैंक का कस्टूमर केयर नम्बर न ढूंढें । कस्टमर केयर का नम्बर सम्बन्धित कम्पनी / बैंक की अधिकारिक वैबसाईट से ही देखें। कभी भी किसी से अपने डेबिट कार्ड/क्रेडिट कार्ड की जानकारी शेयर न करें। कोई भी बैंक या वॉलेट आपको फोन कर आपकी बैंकिग डिटेल नही मांगता है। फेसबुक, मेट्रीमोनियल साईट्स, डेटिंग एप्प व अन्य सोशल साईट्स में किसी भी अज्ञात व्यक्ति/महिला से मित्रता न करें न ही उसके बहकावें मे आये।

यह भी पढ़ें: मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने 17 नेताओं को दायित्वधारी बनाकर दी सौगात, अनिल गोयल बने उत्तराखंड नागरिक उड्डयन विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष