साइबर बुलेटिन: 05 मार्च 2021, साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन देहरादून द्वारा जारी, अलग अलग खाते से उड़ाए लाखों रुपये

देहरादून: स्पेशल टास्क फोर्स उत्तराखंड के अंतर्गत साइबर क्राइम पुलिस स्टेशन देहरादून द्वारा आज दिनांक 05 मार्च 2021 की साइबर बुलेटिन: 
  • जनपद देहरादून निवासी व्यक्ति द्वारा थाना साईबर क्राईम पुलिस स्टेशन को एक प्रार्थना पत्र दिया गया जिसमे उनके द्वारा अवगत कराया गया कि उन्हे एक अज्ञात व्यक्ति द्वारा फोन कर मकान का किराया अदा करने की बात कही गयी तथा वाट्सअप पर बारकोड भेज कर स्कैन करने को कहा गया। उक्त व्यक्ति पर विश्वास करते हुये भेजे गये बार कोड को स्कैन कर पासवर्ड डाला गया तो शिकायतकर्ता के खाते से 03 बार में कुल 60,000/- (साठ हजार) रुपये उक्त व्यक्ति द्वारा धोखाधड़ी से निकाल लिये। प्रकरण में थाना साईबर क्राईम पर अभियोग पंजीकृत किया गया है।
  • रुद्रपुर जनपद उधमसिंहनगर निवासी महिला द्वारा साईबर क्राईम पुलिस स्टेशन कुमायूं परिक्षेत्र में प्रार्थना पत्र दिया गया, जिसमे उनके द्वारा अवगत कराया गया कि उन्होने अपनी बैंक सम्बन्धी जानकारी हेतु गूगल से बैंक का कस्टमर केयर सर्च कर फोन किया गया तो उनके द्वारा बैंक खाता वैरिफाई करने हेतु एक लिंक भेजा गया। शिकायतकर्ता द्वारा विश्वास कर लिंक पर क्लिक कर अपने खाते सम्बन्धी जानकारी दर्ज की गयी तो उनके खाते से विभिन्न किस्तो मे कुल 1,90,000/- (एक लाख नब्बे हजार) रुपये उनके खाते से निकले गए। प्रकरण में थाना साईबर क्राईम पर अभियोग पंजीकृत किया गया है।
  • रुद्रपुर जनपद उधमसिंहनगर निवासी व्यक्ति द्वारा साईबर क्राईम पुलिस स्टेशन कुमायूं परिक्षेत्र में प्रार्थना पत्र दिया गया जिसमे उनके द्वारा अवगत कराया गया कि उन्हे एक अंजान नम्बर से कॉल आया जिसने स्वयं को Mars Enterprises से बताते हुये कच्चा माल भेजने की बात कही गयी। उक्त व्यक्तियों के मध्य सौदा तय होने पर शिकायतकर्ता द्वारा कच्चा माल मंगवाने के लिए 50,000/- (पचास हजार) रुपये बताये गये खाते मे स्थानान्तरित कर दिये गये। किन्तु उक्त व्यक्ति द्वारा न तो माल भेजा गया और न ही पैसे वापस किये गये। प्रकरण में थाना साईबर क्राईम पर अभियोग पंजीकृत किया गया है।
साईबर सुरक्षा टिप
ध्यान रखे कि अंजान व्यक्ति द्वारा भेजे गये किसी भी पेमेन्ट गेटवे /वॉलेट/मोबाईल एप्लीकेशन पर धनराशि प्राप्त करने हेतु कभी भी न तो QR कोड स्कैन करें, और न ही UPI पिन डालें ऐसा करने से हमेशा धनराशि आपके खाते से ही डेबिट होगी। कृपया गूगल या अन्य किसी सर्च इंजन पर किसी कम्पनी / बैंक का कस्टूमर केयर नम्बर न ढूंढें । कस्टमर केयर का नम्बर सम्बन्धित कम्पनी / बैंक की अधिकारिक वैबसाईट से ही देखें। ऑनलाईन प्लेटफार्म पर खरीदारी या सामान बेचते वक्त द्वितीय पार्टी में तत्काल विश्वास ना करें। सामान को भौतिक रुप से देखने व विक्रेता/क्रेता से व्यक्तिगत रुप में मिलकर ही भुगतान करें। किसी अज्ञात नंबर से मैसिज में आये किसी भी लिंक पर क्लिक न करें।