मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने किया लाल तप्पङ फ्लाईओवर व गौरीशंकर द्वीप का निरीक्षण, 31 जनवरी तक फ्लाई ओवर का कार्य होगा पूर्ण-मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत

देहरादून: मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने लाल तप्पङ फ्लाईओवर का निरीक्षण किया। मुख्यमंत्री ने वहां अधिकारियों और कर्मचारियों से जानकारी ली कि कब तक फ्लाई ओवर का काम पूरा हो जाएगा। वहीं मुख्यमंत्री को बताया गया कि इस साल 31 जनवरी तक फ्लाई ओवर का कार्य पूर्ण हो जाएगा।
दरअसल लाल तप्पङ फ्लाईओवर देहरादून हरिद्वार के हाईवे पर स्थित है और इस फ्लाईओवर के बनने के बाद देहरादून हरिद्वार की दूरी और कम हो जाएगी। दूसरी सबसे महत्वपूर्ण बात लाल तप्पड़ इलाका एक तरह का एलीफेंट कॉरिडोर भी है क्योंकि अक्सर जब फ्लाईओवर नहीं था तो इस रास्ते सुबह और शाम एलीफेंट का मूवमेंट रहा करता है, जिससे न सिर्फ वन्यजीवों बल्कि इंसानों की भी जान को खतरा रहा करता था। अब ऐसे में लाल तप्पङ फ्लाईओवर बनने से वन्यजीवों के लिए रास्ता भी सुरक्षित हो जाएगा और आने जाने वाले वाहनों के लिए भी सुरक्षित रहेगा।
साथ हे मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने गौरीशंकर द्वीप व गौरीशंकर से वैरागी केम्प को जोड़नी वाली डबल लेन सेतु 212 मीटर की 3 करोड़ 27 लाख की लागत पुल का भी निरीक्षण किया।

यह भी पढ़ें: प्रदेश में न तो कोई मेरा भाई है, न कोई मेरा ख़ास है, और न ही यहाँ कोई मेरा रिश्तेदार- डीजीपी अशोक कुमार, देखें क्या कुछ और कहा डीजीपी ने

यह भी पढ़ें: “जय बोला जय बोला मेरा बाबा केदार, कैलाशो मा बाबा तू छै पंच केदार” हुआ रिलीज़, आर डी फाउंडेशन की प्रोडक्शन तले पूनम असवाल की मधुर आवाज़ से संजोया हुआ