बागेश्वर: मुख्यमंत्री ने किया सतत विकास लक्ष्य डैस्क बोर्ड का शुभारंभ, यू0एन0डी0पी0 की है यह महत्वाकांशी योजना

दीपक जोशी की रिपोर्ट; 
बागेश्वर 01 दिसम्बर, 2020: मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत द्वारा यू0एन0डी0पी0 की महत्वाकांशी योजना सतत विकास लक्ष्य के धरातली क्रियान्वयन को सुनिश्चित करने के दृष्टिगत सतत विकास लक्ष्य डैस्क बोर्ड का शुभारंभ किया गया। शुभारंभ के अवसर पर मुख्यमंत्री ने वीसी के माध्यम से जुडे सभी जिलों को बधाई देते हुए कहा कि यह गर्व की बात है कि उत्तराखंड देश का पहला ऐसा राज्य हैं, जिसमें सतत विकास लक्ष्यों के क्रियान्वयन को सुनिश्चित करने के लिए सतत विकास लक्ष्य डैस्क बोर्ड का निर्माण किया है।
इस डैस्क बोर्ड से जहां एक ओर निर्धारित 17 सतत विकास लक्ष्यों की प्रगति के संबंध में राष्ट्रीय एवं राज्य स्तरीय प्रगति के संबंध में जानकारी मिलेगी वहीं दूसरी ओर जिला स्तर पर संबंधित जिलाधिकारी अपने जिले की प्रगति को देखते हुए उसके अनुरूप रणनीति बनाते हुए विकासात्मक कार्यो में और अधिक गति लाना सुनिश्चित करेंगे। उन्होने कहा कि गुणवत्तापरक शिक्षा, स्वास्थ, गरीबी उन्मूलन, नवाचार, उद्यमिता आदि पहलुओं पर विशेष सुधार हेतु सरकार द्वारा विभिन्न योजनाओं का संचालन किया गया हैं जैसे उत्तराखंड अटल आयुष्यमान योजना, सभी के को स्वच्छ जल उपलब्ध कराने हेतु मात्र एक रूपये में पानी के कनेक्शन दियें जाने संबंधित जल जीवन योजना आदि।
उन्होने कहा कि पहाडी क्षेत्रों के विकास हेतु सरकार द्वारा बेहतर कार्य किया जा रहा है। इस प्रकार सतत प्रयास से ही बेहतर निष्पादन प्राप्त कियें जा सकेगे। उन्होने सभी जिलाधिकारियों को निर्देश दियें कि वे सतत विकास लक्ष्य डैस्क बोर्ड पर अपने जनपद में लक्ष्य के सापेक्ष कियें गये कार्यो को अपलोड करें, ताकि सतत विकास लक्ष्य के व्यवहारिक उद्देश्य को प्राप्त किया जा सकें। वीसी के उपरान्त जिलाधिकारी विनीत कुमार ने संबंधित सभी अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि वे शिक्षा, स्वास्थ, सरकार द्वारा संचालित की जा रही विभिन्न योजनाओं के क्रियान्वयन में और अधिक तेजी लाये और यह अनिवार्य रूप से सुनिश्चित करे की जनपद विभिन्न योजना अंतर्गत आंवटित लक्ष्य का निर्धारित समयावधि में प्राप्त करे।
उन्होने जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि वे विभिन्न विभागों के विभिन्न योजना के अंतर्गत अपने लक्ष्य के सापेक्ष की गयी प्रगति की विस्तृत रिपोर्ट प्रस्तुत करें, ताकि ऐसे विभाग को निर्धारित लक्ष्य से पीछे चल रहे हैं उनकी गहन समीक्षा की जा सकें।
वीसी में मुख्य विकास अधिकारी डी0डी0पंत, जिला विकास अधिकारी के0एन0तिवारी, प्रभागीय वनाधिकारी बी0एस0शाही, परियोजना निदेशक शिल्पी पंत, अधि0अभि0 जल निगम सी0पी0एस0गंगवार, विद्युत भाष्कर पांडे, जिला पूर्ति अधिकारी अरूण कुमार वर्मा, जिला कार्यक्रम अधिकारी बाल विकास राजेन्द्र प्रसार बिष्ट, जिला समाज कल्याण अधिकारी बी0सी0जोशी, जिला अर्थ एवं संख्याधिकारी देवेन्द्र नाथ गोस्वामी आदि मौजूद रहें।