टिहरी: जिलाधिकारी इवा आशीष श्रीवास्तव की अध्यक्षता में टिहरी विशेष क्षेत्र पर्यटन विकास प्रधिकरण (टाडा) की हुई महत्वपूर्ण बैठक, लिए गए यह फैसले

नई टिहरी: जिला कार्यालय में जिलाधिकारी इवा आशीष श्रीवास्तव की अध्यक्षता में टिहरी विशेष क्षेत्र पर्यटन विकास प्रधिकरण (टाडा) की एक महत्वपूर्ण बैठक हुई। जिलाधिकारी ने बैठक में टाडा से संबंधित जानकारियां संबंधित अधिकारियों से ली। जिलाधिकारी ने कहा कि टिहरी झील एवं उसके आसपास के क्षेत्रों में पर्यटन की अपार संभावनाएं है। संभावनाओं को मूर्त रूप दिए जाने हेतु राज्य सरकार द्वारा निरंतर प्रयास जारी है। जिसके तहत झील को विश्व मानचित्र पर स्थापित करने के साथ ही पर्यटन गतिविधियों से आसपास की स्थानीय जनमानस को रोजगार से जोड़कर आर्थिकी को मजबूत करना प्राथमिकता में है।

उन्होंने कहा कि टिहरी झील को थर्टीन डिस्ट्रिक्ट थर्टीन डेस्टिनेशन में भी शामिल किया गया। जिसके तहत टिहरी झील व आसपास के क्षेत्र में पर्यटकों को दृष्टिगत रखते हुए बुनियादी सुविधाएं स्थापित किये जाने की कार्यवाही गतिमान है। जिलाधिकारी ने बैठक में तीन सदस्य समिति (पर्यटन अधिकारी, साहसिक खेल अधिकारी व जल क्रीड़ा निरीक्षक) के गठन के भी निर्देश दिए है, जो कि डोभरा सहित अन्य जगहों पर बोटिंग पॉइंट तलाशने, स्थायी लाइट एंड साउंड शो की स्थापना एवं साहसिक खेल गतिविधियों सहित पर्यटकों के दृष्टिगत अन्य संभावनाओं के संबंध में एक सप्ताह के भीतर विस्तृत कार्ययोजना जिलाधिकारी के सम्मुख प्रस्तुत करेंगे।

इसके अलावा जिलाधिकारी ने पर्यटन संबंधी गतिविधियों को बढ़ाने, व्यापक प्रचार-प्रसार एवं साहसिक खेल संबंधी संभावनाओं को लेकर बोट संचालकों, आईटीबीपी सहित तमाम संबंधित संस्थओं/एजेंसियों के साथ बैठक के माध्यम से सुझाव प्राप्त करते हुए रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिए है। बैठक में उपजिलाधिकारी टिहरी एफ आर चौहान, जिला पर्यटन अधिकारी एस०एस० यादव, साहसिक खेल अधिकारी सोबत सिंह राणा उपस्थित थे। 

You May Also Like