उच्च शिक्षा मंत्री का पिथौरागढ़ दौरा, कहा पिथौरागढ़ कोलेज कैम्पस को दस हजार का कैंपस बनाया जायेगा व विभिन्न आवश्यकताओं की होगी पूर्ती

दीपक जोशी की रिपोर्ट; 

पिथौरागढ़, 9अक्टूबर 20: पिथौरागढ़ जिले के भ्रमण पर पंहुचे राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) उच्च शिक्षा, सहकारिता, दुग्ध विकास एवं प्रोटोकॉल धन सिंह रावत द्वारा शुक्रवार को लक्ष्मण सिंह महर राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय पिथौरागढ़ में राजकीय उच्च शिक्षा अभियान फेज-2 के अंतर्गत प्राप्त 2 करोड़ की लागत से निर्मित होने वाले बी बी ए/बी सी ए भवन निर्माण का लोकार्पण किया गया।

लोकार्पण कार्यक्रम के उपरांत उच्च शिक्षा राज्य मंत्री द्वारा महाविद्यालय में उच्च शिक्षा विभाग के अधिकारियों एवं विद्यालय के शिक्षक व शिक्षिकाओं के साथ बैठक कर प्रदेश में उच्च शिक्षा के क्षेत्र में किए गए सुधार व उल्लेखनीय कार्यों आदि के बारे में जानकारी देते हुए आवश्यक निर्देश दिए।

अपने संबोधन में मंत्री ने कहा कि सरकार द्वारा सीमांत क्षेत्र में अल्मोड़ा विश्व विद्यालय के अंतर्गत पिथौरागढ़ एवं बागेश्वर दो कैम्पस बनाए गए है। इन दोनों कैम्पस में स्वेच्छा के अनुसार ही शिक्षकों को तैनात किया जाएगा। इस हेतु आगामी 2 मांह में सभी से विकल्प लिए जाएंगे। उन्होंने कहा कि स्वेच्छा के अनुसार ही तैनाती की जाएगी। उन्होंने कहा कि प्रदेश में उच्च शिक्षा के क्षेत्र में निरंतर कार्य किए जा रहे हैं। विगत साढ़े तीन वर्षों में विभागीय पदोन्नति की समिति की कुल 24 बैठक (डीपीसी) कर प्रदेश के सभी महाविद्यालयों में प्राचार्य की तैनाती के साथ ही शत प्रतिशत शिक्षकों को नियुक्त किया गया है।

उन्होंने कहा कि पिथौरागढ़ महाविद्यालय में भी वर्तमान में गृह विज्ञान में एक पद छोड़कर शत प्रतिशत शिक्षक तैनात किए गए है। उन्होंने कहा कि अब प्रत्येक प्राचार्य को ब्यवस्था के तहत शिक्षक तैनात करने एवं अन्य शैक्षणिक व्यवस्था हेतु अधिकार दे दिए गए हैं। उन्होंने महाविद्यालय के प्राचार्य को निर्देश दिए कि शीघ्र ही महाविद्यालय में 15 दिन में एक गृह विज्ञान के शिक्षक की रुपये 25 हजार मासिक मानदेय में रखे जाने हेतु विज्ञप्ति जारी करने के निर्देश दिए।

उन्होंने अवगत कराया कि पिथौरागढ़ महाविद्यालय में आज कुल 1 लाख 20 हजार से अधिक संख्या में किताबें हैं, जो प्रत्येक छात्र-छात्रा पर 18 है। साथ ही कहा कि शीघ्र ही प्रत्येक महाविद्यालय को 25-25 कम्प्यूटर उपलब्ध कराए जा रहे हैं।सभी महाविद्यालय में ई ग्रंथालय दिया गया है, जिससे छात्र-छात्रा ई बुक पड़ सकता है।

उन्होंने कहा कि प्रत्येक महाविद्यालय में आवश्यकता अनुसार सभी आवश्यक सुविधाओं हेतु पर्याप्त धनराशि उपलब्ध कराई जा रही है। साथ ही पिथौरागढ़ महाविद्यालय हेतु महिलाओं के लिए अलग से 10 तथा छात्रों के लिए 10 सौचालय बनाने के साथ ही पेयजल की आवश्यकता अनुसार व्यवस्था करने के निर्देश प्राचार्य को दिए।

मंत्री ने कहा कि 30 छात्र-छात्राओं पर एक शिक्षक दिया जा रहा है। उन्होंने कहा कि विद्यालय में 180 दिन की पढ़ाई अनिवार्य हो। जो छात्र-छात्रा विद्यालय में 180 दिन उपस्थित नहीं रहेगा, उसे परीक्षा में नहीं बैठने दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि आगामी 31 अक्टूबर तक विद्यालय में प्रवेश बढ़ाएं।

अपने संबोधन में उच्च शिक्षा राज्य मंत्री ने कहा कि पिथौरागढ़ कैम्पस को 10 हजार का कैम्पस बनाया जाएगा। जिसमें 10 स्मार्ट क्लास बनाए जाएंगे। 5 संकाय चलेने के साथ ही इंजीनियरिंग व कानून की पढ़ाई के अतिरिक्त 10 स्वरोगार परख पाठ्यक्रम पढ़ाए जाएंगे। उन्होंने महाविद्यालय में छात्रावास की मरम्मत, परिसर की चहारदीवारी, दिव्यांग जनों हेतु रैम्प का निर्माण, लैब निर्माण,भवन की रंगाई पुताई, प्राचार्य आवास मरम्मत, आवश्यकता अनुसार सौचालयों का निर्माण कराया जाएगा। उन्होंने कहा कि शीघ्र ही सभी महाविद्यालयों में 4 जी नेट कनेक्टिविटी निःशुल्क उपलब्ध कराई जा रही है। उन्होंने यह भी कहा कि पिथौरागढ़ कैम्पस को क्लीन कैम्पस, ग्रीन कैम्पस बनाये जाने के साथ ही नशा मुक्ति कालेज बनाया जाय।

इस अवसर पर उपस्थित सभी जनप्रतिनिधियों, शिक्षक, शिक्षिकाओं आदि के द्वारा कोविड-19 जागरूकता संबंधी प्रतिज्ञा/सपथ ली गई।

इस अवसर पर विधायक पिथौरागढ़ चंद्रा पंत द्वारा उच्च शिक्षा के क्षेत्र में किए गए विभिन्न उल्लेखनीय कार्यों व घोषणाओं हेतु आभार व्यक्त करते हुए धन्यवाद दिया। कार्यक्रम में विधायक डीडीहाट विशन सिंह चूफाल, अध्यक्ष जिला पंचायत दीपिका बोहरा, अध्यक्ष नगर पालिका पिथौरागढ़ राजेन्द्र रावत, जिलाध्यक्ष भाजपा वीरेन्द्र वल्दिया, अध्यक्ष जिला सहकारी बैंक मनोज सामंत, निदेशक उच्च शिक्षा एम सी पाण्डेय, प्राचार्य डॉ अशोक नेगी, समेत विभिन्न जनप्रतिनिधि, महाविद्यालय के शिक्षक, शिक्षिकाएं व अन्य उपस्थित रहे।

वहीं पिथौरागढ़ जिले के भ्रमण पर पंहुचे राज्य मंत्री धन सिंह रावत ने जिला सहकारिता बैंक पिथौरागढ़ में आयोजित कार्यक्रम में 46 किसानों व सहकारिता समूहों को शून्य प्रतिशत ब्याज पर कुल 72 लाख रुपये के चैक वितरित किए गए। इस अवसर पर उन्होंने जिले के विभिन्न स्थानों में कुल 12 सहकारी बैंक की शाखाएं, 10 एटीएम (आवश्यकता पड़ने पर 15) खोलने की घोषणा करने के साथ ही जिन क्षेत्रों में बैंक की शाखा नहीं खुल सकती है, ऐसे क्षेत्रों में ई लॉबी सुविधा उपलब्ध कराने की भी घोषणा के साथ ही जिला सहकारी बैंक पिथौरागढ़ के भवन निर्माण हेतु 5 करोड़ की स्वीकृति के साथ ही शीघ्र ही डीपीआर तैयार कर प्रस्तुत करने के निर्देश महाप्रबंधक सहकारिता को दिए।

उन्होंने कहा कि आम नागरिकों को उनके घर से कम से कम दूरी पर बैंकिंग सुविधा मुहैय्या कराई जा रही है, ताकि उन्हें कम से कम दूरी तय करनी पड़े। उन्होंने कहा कि पिथौरागढ़ जिले में किसानों के साथ ही अन्य व्यक्तियों को स्वरोगार करने एवं उनकी आर्थिकि को मजबूत करने हेतु कुल 100 करोड़ रुपये का ऋण वितरित किया जा रहा है। आवश्यकता पड़ने पर यह धनराशि और बड़ाई जाएगी।

अपने संबोधन में सहकारिता राज्य मंत्री ने कहा कि राज्य में सहकारिता के क्षेत्र में अनेक कार्य कर विभिन्न योजनाओं के माध्यम से सीधे किसानों को आर्थिक रूप से मजबूत किया जा रहा है। राज्य में सहकारिता के क्षेत्र में अनेक कार्य किए जा रहे हैं जिनका लाभ सीधे किसानों तक पंहुच रहा है।उन्होंने कहा कि जिले से 10 उत्कृष्ट किसानों को देश के विभिन्न स्थानों में एक सप्ताह के निःशुल्क भ्रमण कराया जाएगा, जहां वह आधुनिक तकनीकी के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकें। इसके अतिरिक्त राज्य से 5 ऊतक किसानों को विदेश भेजा जाएगा।इसके अतिरिक्त प्रत्येक वर्ष 15 उत्कृष्ट किसानों को मुख्यमंत्री किसान सम्मान निधि से नवाजा जाएगा।

उन्होंने कहा कि राज्य में युवाओं को स्वरोगार से जोड़े जाने हेतु अनेक योजनाएं सरकार द्वारा चलाई जा रही है। राज्य में स्वरोगार हेतु सहकारी बैंक के माध्यम से एक लाख 60 हजार तक का ऋण बिना किसी गारंटी के दिया जा रहा है। इसके साथ ही महिला समूहों को 5 लाख तक का ऋण दिया जा रहा है। इसके अतिरिक्त बहुउद्देश्यीय साधन सहकारी समितियों को किसी भी कार्य के लिए 1 प्रतिशत ब्याज पर 2 करोड़ रुपये का ऋण दिया जा रहा है।

इस अवसर पर विधायक पिथौरागढ़ चंद्रा पंत, विधायक डीडीहाट विशन सिंह चूफाल, अध्यक्ष जिला पंचायत दीपिका बोहरा, दर्जा राज्य मंत्री हयाद सिंह महरा, अध्यक्ष नगर पालिका राजेन्द्र रावत, जिलाध्यक्ष भाजपा वीरेन्द्र वल्दिया, अध्यक्ष संघ विनोद भट्ट, पूर्व दर्जा राज्य मंत्री महेन्द्र सिंह लुंठी, महाप्रबंधक सहकारी बैंक एम एस भंडारी, महाप्रबंधक एल एम भट्ट समेत निदेशक मंडल के सदस्य, विभिन्न जनप्रतिनिधि, महिला समूहों के सदस्य आदि उपस्थित रहे।

You May Also Like