दो लोगों को मारने वाला गुलदार शिकारी अलीविन हांदी की गोली का हुआ शिकार

दीपक जोशी की रिपोर्ट; 

पिथौरागढ़: पिथौरागढ़ तहसील के चंडाक और छाना गांव क्षेत्रों में आतंक का पर्याय बन चुके गुलदार को आज तड़के मेरठ से पहुंचे शिकारी सैयद अलीविन हादी ने पहली गोली में ही मौत की नींद सुला दिया। गुलदार की मौत से प्रभावित क्षेत्र में खुशी का माहौल है। ग्रामीणों ने शिकारी सैयद अली विन हादी को खुशी से कंधे पर उठा लिया।

उप प्रभागीय वन अधिकारी नवीन चंद्र पंत ने घटना की पुष्टि करते हुए बताया कि उक्त घटना सुबह करीब 4:15 बजे चंडाक क्षेत्र के सुकौली के समीप हुई। वाइल्ड लाइफ शूटर सैयद अलीविन हादी ने बताया कि वे मेरठ से सोमवार दोपहर को पिथौरागढ़ पहुंचे थे। गुलदार प्रभावित क्षेत्र में लगातार वाच कर रहे थे आज बुधवार को सुबह करीब 4:15 बजे लगातार गुलदार पर नजर रखकर तथा बीते रोज शाम को ग्रामीणों को मिली लोकेशन के आधार पर सुबह सुकौली क्षेत्र में जहां इस गुलदार ने 21 सितंबर को पहली घटना की थी, उस जगह से करीब 400 मीटर दूर गुलदार की लोकेशन मिली, जिस पर सटीक निशाना लगाते हुए उन्होंने पहले ही शूट में गुलदार को मौत की नींद सुला दिया।

हांदी ने बताया कि करीब 10 साल का नर गुलदार शिकार करने में अक्षम हो गया था तथा उसके दांत एवं नाखून भी क्षतिग्रस्त होने लगे थे, जिसके चलते वह ग्रामीण क्षेत्र में आकर के मानव संघर्ष कर रहा था।

गौरतलब है कि इस गुलदार ने दो लोगों को अपना निवाला बनाया जबकि एक युवक को बीते रोज बुरी तरह से जख्मी कर दिया था जिसका हल्द्वानी में इलाज चल रहा है।

You May Also Like