मसूरी में सिफन कोट को लेकर राजनीति

नरेश नौटियाल की रिपोर्ट;

मसूरी: पर्यटन नगरी मसूरी के किताबघर स्थित सिफन कोट को उत्तराखण्ड हाई कोर्ट के आदेश पर 10 सितम्बर को खाली होने के बाद आए दिन यंहा राजनीतिक पार्टियों ने दौरा करना शुरू कर दिया है। इसी क्रम में उत्तराखण्ड क्रांति दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष दिवाकर भट्ट भी आज मसूरी पहुंचे जंहा उन्होंने मसूरी के सिफन निवासियों से मुलाकात की।

पत्रकारों से बात करने हुए भट्ट ने कहा कि जो घटना यंहा सिफन के लोगों के साथ हुई है वो निंदनीय है। क्योंकि ऐसी घटना अंग्रेजों के 200 वर्षो के राज में भी नहीं हुई। उन्होंने त्रिवेन्द्र सरकार पर हमला करते हुए कहा कि सिफन कोट के लोगों को वंहा से हटाकर इस कारनामे से ऐसा नहीं लगता कि त्रिवेन्द्र सिंह रावत पहाड़ के है। इससे ये साबित होता है कि वो कहीं दूर के है और हम से कोई रिश्ता नहीं है।

वंही उन्होंने हमला करते हुए कहा कि आगामी 2022 के चुनाव में इसका परिणाम इनको भुगतना पड़ेगा।

You May Also Like