बागेश्वर: जनपद में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के मध्यनजर जिलाधिकारी विनीत कुमार ने की आवश्यक बैठक आयोजित

दीपक जोशी की रिपोर्ट; 

बागेश्वर: जनपद में कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों के मध्यनजर कोरोना संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आये व्यक्तियों की ठीक ढंग से कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग एवं उनकी शतप्रतिशत सैंपलिंग लिये जाने के संबंध में जिलाधिकारी विनीत कुमार ने जिला कार्यालय सभागार में संबंधित अधिकारियों के साथ आवश्यक बैठक आयोजित की।

जिलाधिकारी ने सभी अधिकारियों को निर्देश दिये है कि जनपद में गत दिनों से कोरोना संक्रमण के मामलें निरंतर बढ रहे है। इन पर प्रभावी नियंत्रण के लिए सभी को सतर्कता एवं सावधानी से कार्य करना है, जिसके लिए यह अति आवश्यक है कि कोरोना पाजिटिव के जो भी व्यक्ति आ रहे है, उनके संपर्क में आये व्यक्तियों का शतप्रतिशत कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग एवं सैंपलिंग की जाय। जिसके लिए उन्होंने मुख्य चिकित्साधिकारी को आवश्यक कार्यवाही करने के निर्देश दिये। 

बैठक में मुख्य चिकित्साधिकारी बी0डी0 जोशी ने जिलाधिकारियों को अवगत कराया है कि जनपद में बढ़ते कोरोना संक्रमण के मामलों के मध्यनजर पॉजिटिव मरीजों के संपर्क में आये व्यक्तियों का घर-घर जाकर सैंपलिंग किया जाना सम्भव नहीं है। इसके लिए उनके पास पर्याप्त स्टाफ एवं लैब टेक्निसियन की कमी है। जिसके लिए उन्होंने जिस क्षेत्र में संक्रमित व्यक्ति पाये जा रहे है, उस क्षेत्र की सैपलिंग करने के लिए किसी एक स्थान का चिन्हिकरण किया जाए, जिसमें उस क्षेत्र में टीम भेजकर क्षेत्र के सभी लोगों की सैंपलिंग की जा सके।

जिलाधिकारी ने सभी उप जिलाधिकारियों को निर्देश दिये है कि जिन क्षेत्रों में कोरोना संक्रमण के मरीज पाए जा रहे है, उन क्षेत्रों में संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आये व्यक्तियों की ठीक ढंग से ट्रेसिंग करते हुए उनकी शतप्रतिशत सैंपलिंग कराने के लिए नजदीकी स्कूल एवं सरकारी भवन में सैंपलिंग कराने की व्यवस्था की जाए। तथा ग्राम स्तर पर पंचायत भवन या नजदीकी स्कूल में सैंपलिंग कराने के निर्देश दिये गये।

उन्होंने कहा कि नगर क्षेत्र में सभी लोगों की सैंपलिंग की जानी है, इसके लिए वार्डवार सैंपलिंग की व्यवस्था कराये जाने के लिए व्यापार मण्डल के पदाधिकारियों एवं वार्ड मेम्बरों के साथ भी बैठक करते हुए इसमें उन लोगों का सहयोग लिया जाय, ताकि सभी लोगों की सैंपलिंग की जा सके। उन्होंने यह भी निर्देश दिये है कि जिन व्यक्तियों के सैंपल लिये जा रहे है, उसकी सूची कन्ट्रोल रूम तथा सभी उप जिलाधिकारियों एवं पुलिस को भी उपलब्ध कराई जाय।

उन्होंने बीआरटी एवं सीआरटी टीम को अपने-अपने क्षेत्रों में कड़ी निगरानी करते हुए किसी व्यक्ति में किसी प्रकार के लक्षण पाये जाने पर इसकी सूचना तत्काल कन्ट्रोल रूम एवं नजदीकी स्वास्थ्य केन्द्र को उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने सभी अधिकारियों को यह भी निर्देश दिये है कि कोरोना संक्रमण के बढ़ते मामलों को ध्यान में रखते हुए सभी लोगों से नियमों का पालन कड़ाई से कराया जाए जिसमें सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क पहनने एवं सैनिटाईर्जेशन आदि पर विशेष निगरानी की जरूरत है। यदि किसी व्यक्ति द्वारा नियमों का पालन नहीं किया जा रहा है तो उसके विरूद्ध आवश्यक कार्यवाही सुनिश्चित की जाए।

बैठक में जिलाधिकारी ने होम आइसोलेशन किये जा रहे कोरोना संक्रमित व्यक्तियों के संबंध में सरकार द्वारा जारी दिशा निर्देशों के अनुसार ही होम आइसोलेशन कराने के निर्देश दिये। होम आइसोलेशन के लिए जिलाधिकारी ने अपर मुख्य चिकित्साधिकारी बी0के0 सक्सैना को नोडल अधिकारी नामित किया गया है। उन्होंने नोडल अधिकारी को निर्देश दिये है कि होम आइसोलेशन के संबंध में जारी दिशा निर्देशों का कढाई से अनुपालन सुनिश्चित किया जाय तथा जो व्यक्ति मानकों को पूर्ण करता है, उसी को ही होम आइसोलेशन की सुविधा उपलब्ध करायी जाए। इसके लिए उन्होंने यह भी सुनिश्चित कराने के निर्देश दिये है कि होम आइसोलेशन की सुविधा के लिए जो आवेदन कर रहा है, उसका भी इस संबंध में बीआरटी एवं सीआरटी के माध्यम से उसका निरीक्षण कराया जाए कि संबंधित व्यक्ति के घर में सभी सुविधायें उपलब्ध है की नहीं। उन्होंने कहा कि होम आइसोलेशन के लिए गम्भीरता एवं सतर्कता से कार्य करना है ताकि कोरोना संक्रमण किसी अन्य व्यक्ति में न फैल सके।

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी डी0डी0 पंत, अपर जिलाधिकारी हेमन्त कुमार वर्मा, पुलिस उपाधीक्षक महेश जोशी, उप जिलाधिकारी बागेश्वर राकेश चन्द्र तिवारी, कपकोट प्रमोद कुमार, गरूड़ जयवर्द्धन शर्मा, काण्डा योगेन्द्र सिंह, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ0 बी0के0 सक्सैना, नोडल अधिकारी कन्ट्रोल रूम/सेवायोजन अधिकारी शंकर बोरा, अधि0अधि0 नगरपालिका राजदेव जायसी आदि उपस्थित थे।

You May Also Like