जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने सुरसिंगधार नर्सिंग कालेज में बनाये गए कोविड केयर सेंटर का किया औचक निरीक्षण, दिए यह महत्वपूर्ण निर्देश

नई टिहरी: जिलाधिकारी मंगेश घिल्डियाल ने सुरसिंगधार पहुंचकर नर्सिंग कालेज में बनाये गए कोविड केयर सेंटर का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान जिलाधिकारी ने कोरोना संक्रमण के रोगियों के लिए भोजन बनाने हेतु मेस/कैंटीन/कीचन का भी निरीक्षण किया। विगत दिवस कैंटीन संचालक द्वारा नाश्ते में परोसे गए छोले-भठूरे स्वास्थ्य विभाग द्वारा निर्धारित मीनू जो कि कैंटीन में भी चस्पा किया पाया गया में उल्लेखित नही पाया गया। इसके बावजूद भी कैंटीन संचालक द्वारा छोले-भठूरे नाश्ते में परोसे गए। जिस पर जिलाधिकारी ने कड़ी नाराजगी प्रकट करते हुए उस दिन का भुगतान/धनराशि में कटौती करने के निर्देश दिए है।

इसके अलावा कैंटीन स्टोर में आटा, चावल, दालें, जूस, फ्रूटी, दलिया, मख्खन, अण्डा, दलिया, सलाद हेतु खीरा, मूली व सब्जी इत्यादि का स्टॉक प्रयाप्त मात्रा में पाया गया। जिलाधिकारी ने सुपरविजन ऑफिसर व कैंटीन संचालक को स्पष्ट चेतावनी देते हुए कहा कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा निर्धारित भोजन के मीनू के अनुरूप ही कोरोना पॉजिटिव रोगियों को भोजन मुहैया कराया जाए।

कोविड केयर सेंटर में सफाई इत्यादि की पर्याप्त सुविधा होते हुए भी कुछ रोगियों द्वारा अवशेष बचे हुए भोजन (दाल, सब्जियां) जानबूझकर होस्टल गैलरी में बिखेरने व ग्राउंड फ्लोर पर यहाँ-वहाँ फैंके जाने पर संबंधित व्यक्ति की जानकारी/सूचना किसी भी उच्च अधिकारी को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए है। ताकि जानबूझकर ऐसी हरकतें करने वाले व्यक्ति पर नकेल कसी जा सके। उन्होंने मेडिकल स्टाफ को यह भी निर्देश दिए कि जिस किसी भी रोगी द्वारा ऐसा अनावश्यक कार्य किया जाता है उस दौरान संबंधित व्यक्ति की फोटो वह वीडियोग्राफी कर ली जाए।

जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग के सुपरविजन अधिकारी डॉ मनोज वर्मा को निर्देश दिए कि वह पीपीई किट पहनकर कोविड केयर सेंटर का समय-समय पर औचक निरीक्षण करते रहें। स्पष्ट किया कि स्वास्थ्य विभाग के स्तर पर किसी भी प्रकार की शिकायत ना आने पाए। इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ सुमन आर्य, उप जिलाधिकारी सदर एफ०आर० चौहान, डॉ मनोज वर्मा आदि उपस्थित थे।


You May Also Like