मंत्रियों के आवासों की साज-सज्जा व मरम्मत के नाम पर क्यों बहाया जा रहा करोड़ों रुपया-मोर्चा, आरटीआई रिपोर्ट संलग्न  

विकासनगर: जन संघर्ष मोर्चा अध्यक्ष एवं जीएमवीएन के पूर्व उपाध्यक्ष रघुनाथ सिंह नेगी ने कहा कि एक गरीब प्रदेश, जिससे कर्ज का ब्याज नहीं चुकाया जा रहा, उस प्रदेश में मंत्रियों के 18 आवासों में मॉड्यूलर किचन/पोर्च/गौशाला आदि बनाने में लगभग 2.45 करोड़ एवं मरम्मत के नाम पर 1.5 करोड़ रूपया खर्च कर डाला। यानी कुल  3.96 करोड़  ₹ खर्च किया गया।

यह भी पढ़ें: सादगी से मनाई गई मसूरी में नाग पंचमी, करीब पांच सौ साल पुराना नाग मंदिर एक सिद्ध पीठ है और करीब पांच सौ साल पुराना-होशियार सिंह थापली              

नेगी ने कहा कि पूर्व से ही सुसज्जित इन आवासों/आलीशान बंगलों पर करोड़ों रुपए खर्च करना प्रदेश की जनता की गाढ़ी कमाई वह बर्बाद करने जैसा है।  मोर्चा सरकार से मांग करता है कि फिजूलखर्ची बंद कर आमजन के कल्याण में पैसा खर्च करे।

यह भी पढ़ें: सरकारी नौकरी दिलाने के नाम पर 20 लाखों की ठगी करने वाला अभियुक्त गिरफ्तार, 50 लाख में हुआ था नौकरी दिलाने का वादा

You May Also Like