8 पुलिसकर्मियों की हत्या करने वाले विकास दुबे की ही जेसीबी से ढहा दिया गया उसका मकान, चौबेपुर थाने के दरोगा को किया गया बर्खास्‍त

लखनऊ: कानपुर के चौबेपुर में सीओ समेत 8 पुलिस कर्मियों की हत्या करने वाले हिस्ट्रीशीटर विकास दुबे पर आज प्रशासन ने बड़ी कार्रवाई की है। पुलिस ने बिकरु गाँव स्थित विकास दुबे के घर को ढहा दिया है। विकास दुबे के घर को उसी की जेसीबी से ढहाया गया है। जेसीबी की मदद से दुबे के घर की चाहरदीवारी के साथ ही घर के कमरों को भी ढहा दिया गया है। इसी जेसीबी को रास्ते के बीच में अड़ा दिया गया था। जिसके बाद हुई गोलीबारी में 8 पुलिसकर्मी शहीद हो गए थे।

जानकारी के अनुसार आज सुबह से ही विकास दुबे के घर को तोड़ने की तैयारियां शुरू की गई थी। प्रशासन ने दुबे के मकान के साथ साथ उसकी महंगी गाड़ियों और ट्रैक्टर को भी रौंद दिया है। 8 पुलिस कर्मियों को मौत के घाट उतारने वाले कुख्‍यात गैंगस्‍टर विकास दुबे को पकड़ने के लिए उत्‍तर प्रदेश पुलिस चप्‍पे-चप्‍पे को छान रही है। विकास दुबे की जानकारी देने के लिए पुलिस ने इनाम भी घोषि‍त किया है। उत्‍तर प्रदेश पुलिस ने विकास दुबे पर 50000 का इनाम रखा है।

विकास दुबे को पकड़ने के लिए उत्‍तर प्रदेश पुलिस की 20 टीमें अलग-अलग जिलों में छापा मार रही हैं। कानपुर शूटआउट के मामले में पुलिस पूरी रात छापेमारी करती रही। पुलिस ने अब तक इस मामले में 12 और लोगों को हिरासत में लिये है जिनसे पूछताछ की जा रही है।  इन लोगों को उनके मोबाइल कॉल डिटेल के आधार पर उठाया गया है। दरअसल इन लोगों से विकास दुबे की बात घटना से पहले पिछले चौबीस घंटों में बातचीत हुई थी।

उत्‍तर प्रदेश पुलिस ने कानपुर जिले के चौबेपुर पुलिस थाने के दरोगा विनय तिवारी को सेवा से तत्‍काल बर्खास्‍त कर दिया है। उन पर आरोप है कि गैंगस्‍टर विकास दुबे को पकड़ने गई पुलिस टीम की जानकारी उन्‍होंने अपराधियों को दी है, जिससे मुठभेड़ में 8 पुलिस कर्मचारियों की मौत हो गई। कानपुर रेंज के आईजी मोहित अग्रवाल ने कहा कि चौबेपुर थाना के दरोगा पर लगे आरोपों के मद्देनजर उन्‍हें बर्खास्‍त किया गया है और सभी आरोपों की गहनता से जांच की जा रही है। अग्रवाल ने कहा कि यदि उनकी संलिप्‍तता पाई जाती है या अन्‍य कोई पुलिस कर्मी द्वारा अपराधियों की मदद करने का पता चलता है, तो उन्‍हें विभाग से बर्खास्‍त किया जाएगा और जेल भेजा जाएगा। हालांकि उन्‍होंने चौबेपुर के दरोगा विनय तिवारी पर लगे आरोपों का खुलासा नहीं किया।  

Kanpur: House of the history-sheeter Vikas Dubey, the main accused in Kanpur encounter case, being demolished by district administration. More details awaited.

8 policemen were killed in the encounter which broke out when police went to arrest him in Bikaru, Kanpur yesterday. pic.twitter.com/gukyZZwfl9

— ANI UP (@ANINewsUP) July 4, 2020

You May Also Like