योगी कैबिनेट का गोवध पर संशोधित अध्यादेश जारी, अध्यादेश में 3-10 साल तक की जेल

लखनऊ: योगी कैबिनेट ने आज उत्तर प्रदेश में गोवंश की रक्षा करने और गोवध को रोकने के लिए गोवध निवारण (संशोधित) अध्यादेश, 2020 पर मुहर लगाई है। अब से अंगों को भंग करने पर 1-7 साल की जेल और 1-3 लाख तक जुर्माना तथा गोवध करने वालों को 3-10 साल की जेल और 5 लाख तक का जुर्माना लगाया जा सकता है। अध्यादेश इस प्रकार से है।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड कोरोना बुलेटिन: स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी, दोपहर 2 बजे की रिपोर्ट, 23 और कोरोना पॉजिटिव

You May Also Like