कोविड-19 से संक्रमित लोगों का ईलाज करने वाले अस्पतालों को 50 लाख रूपए की दी जाएगी प्रोत्साहन राशि, जाने क्यों

देहरादून: मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने घोषणा की है कि जिस कोविड अस्पताल में कोरोना वारियर्स स्वयं को संक्रमण से बचाते हुए कोविड-19 से संक्रमित लोगों का ईलाज कर रहे हैं, उस अस्पताल को 50 लाख रूपए की प्रोत्साहन राशि दी जाएगी। उन्होने कहा कि “वैसे तो सभी अस्पतालों में कोरोना वारियर्स को मानकों के अनुरूप संक्रमण से बचने के लिए आवश्यक सुरक्षात्मक उपकरण उपलब्ध करवाए जा रहे हैं, फिर भी अस्पताल अपने यहां कार्यरत चिकित्साकर्मियों और स्वास्थ्यकर्मियों की सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए और प्रेरित होंगे। इससे कोरोना के खिलाफ लड़ाई में अग्रिम पंक्ति में डटे हमारे चिकित्सकों और स्वास्थ्य कर्मियों का भी मनोबल बढ़ेगा। राज्य सरकार अपने हर कोरोना वारियर्स के साथ है।”

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड कोरोना बुलेटिन: स्वास्थ्य विभाग द्वारा जारी, दोपहर 3 बजे की रिपोर्ट, 51 और कोरोना पॉजिटिव

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने कहा है कि कोविड अस्पतालों में हर तरह की सावधानी रखी जाए। चिकित्सक व स्वास्थ्यकर्मी हमारे फ्रंटलाईन कोरोना वारियर्स हैं। इनकी संक्रमण से सुरक्षा को सर्वोच्च प्राथमिकता से लिया जाए। हमारे चिकित्सक और स्वास्थ्यकर्मी, कोविड-19 से संक्रमित व्यक्तियों का ईलाज तभी कर सकते हैं जब वे स्वयं सुरक्षित रहें। हमारे कोरोना वारियर्स स्वयं के जीवन को खतरे में डालते हुए पूरी निष्ठा और तत्परता से अपने दायित्वों का निर्वहन कर रहे हैं। हमें अपने इन वारियर्स पर गर्व है। हमारा भी दायित्व है कि ये स्वस्थ रहें और सुरक्षित रहें। इनके लिए कार्यस्थल पर समुचित सुरक्षागत उपकरण की व्यवस्था सुनिश्चित हो।

यह भी पढ़ें:पशुपालन से मिलेगा स्वरोजगार, सरकार देगी अनुदान-मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत

You May Also Like