राज्य के बाहरी जनपदों और रेड क्षेत्र से आने वालों को स्वास्थ्य परीक्षण के बाद संगरोध किया जाए- ज़िलादिकारी

दीपक जोशी की रिपोर्ट:

बागेश्वर: कोरोना वायरस संक्रमण की रोकथाम एवं नियंत्रण के लिए लॉकडाउन का अनुपालन कराने के लिए पुलिस विभाग एवं उपजिलाधिकारियों द्वारा अपने-अपने क्षेत्रों में सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन सुनिश्चित कराने के संबंध में जिलाधिकारी रंजना राजगुरू की अध्यक्षता में जिला कार्यालय में एक महत्वपूर्ण बैठक हुई। बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि सभी अधिकारियों द्वारा अपने-अपने क्षेत्रों में बेहतर ढंग से कार्य सम्पादित किया जा रहा हैं। यह उन्हीं की मेहनत का प्रतिफल हैं कि इस जनपद में अब तक इस संक्रमण का कोई मामला प्रकाश में नहीं आया हैं।

जनपद में कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए यह बहुत जरूरी हैं कि सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन सुनिश्चित किया जाए। इसके लिए सुबह के समय आवश्यक वस्तुओं की खरीदारी के समय इसका विशेष रूप से ध्यान रखा जाए। तभी कोरोना जैसे महामारी पर विजय प्राप्त की जा सकती हैं। उन्होंने सभी अधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए कि यदि किसी दुकानदार एवं अन्य व्यक्तियों द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग का अनुपालन नहीं किया जाता हैं, तो उनके विरूद्ध आवश्यक कार्रवाई सुनिश्चित की जाए।

उन्होंने यह भी निर्देश दिए कि सार्वजनिक स्थान एवं कार्यस्थल पर सभी के लिए फेस कवर/फेस मॉस्क लगाना अनिवार्य होगा। इस संबंध में सभी अधिकारी अपने-अपने क्षेत्रों में व्यापक प्रचार-प्रसार करते हुए लोंगो को जागरूक करें। यदि फिर भी कोई व्यक्ति फेस कवर या मॉस्क नहीं लगाता हैं, तो ऐसे लोंगो के विरूद्ध आवश्यक कार्रवाई सुनिश्चित की जाए।

जिलाधिकारी ने पुलिस अधिकारियों एवं उपजिलाधिकारियों को स्पष्ट निर्देश दिए कि जो व्यक्ति बाहरी जनपदों एवं राज्य के रेड जोन से आता हैं, उन पर कडी निगरानी करते हुए उनका अनिवार्य रूप से स्वास्थ परीक्षण कराने के उपरान्त कोरोनटाइन कियें जाए। इसमें किसी प्रकार की लापरवाही न बरती जाए। तथा सभी अधिकारी सर्तकता एवं संवेदनशीलता के साथ इस कार्य को करें।

उन्होंने यह भी निर्देश दियें हैं कि बाहर से आने वाले जिन लोंगो को होम कोरोनटाइन किया जा रहा हैं, उनकों इस हेतु जारी दिशा निर्देशों के बारे में पूर्ण रूप से जानकारी दी जाए। उन्होंने यह भी निर्देश दिये कि जिन वाहनों के माध्यम से लोंग बाहर से आ रहें हैं, उन वाहनों का अनिवार्य रूप से सेनेटाइज़ किया जाए।

उन्होंने संबंधित अधिकारियों का यह भी निर्देश दिए कि लॉकडाउन के समय भारत सरकार एवं राजय सरकार द्वारा जिन गतिविधियों के संचालन में छूट प्रदान की गयी हैं, उनका संचालन दिए गए शर्तो/प्रतिबंधों कें अनुरूप ही संचालन हो। इसका विशेष रूप से ध्यान रखा जाए।

बैठक में पुलिस अधीक्षक रचिता जुयाल, अपर जिलाधिकारी राहुल कुमार गोयल, उपजिलाधिकारी बागेश्वर राकेश चन्द्र तिवारी, कपकोट प्रमोद कुमार, काण्डा योगेन्द्र सिंह, गरूड़ जयवर्द्धन शर्मा, पुलिस उपाधीक्षक महेश जोशी, संगीता, जिला पूर्ति अधिकारी अरूण कुमार वर्मा, जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी शिखा सुयाल आदि मौजूद रहे।

You May Also Like