सीएम योगी आदित्यनाथ के पिता को मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने दी भावुक श्रद्धांजलि, बड़े बेटे ने किया अंतिम संस्कार

देहरादून: मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र सिंह रावत ने आज फूलचट्टी गंगातट, पौड़ी गढ़वाल में उतर प्रदेश मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिताजी व समाजसेवी स्व. आनंद सिंह बिष्ट के अंतिम संस्कार में शामिल होकर पार्थिव देह पर पुष्प चक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि दी तथा शोक संतप्त परिवार को सांत्वना दी। मुख्यमंत्री ने कहा कि स्वर्गीय आनंद सिंह जैसे समाजसेवी की कमी प्रदेश को हमेशा खलेगी, इनके द्वारा समाज के प्रति किए गए कार्यों को सदैव याद रखा जाएगा। परमपिता परमेश्वर शोकाकुल परिजनों को इस दुःख को सहन करने की शक्ति दे।

उनका अंतिम संस्कार आज ऋषिकेश के फूलचट्टी में गंगा तट पर किया गया। बड़े बेटे मानवेंद्र सिंह बिष्ट ने पिता की चिता को मुखाग्नि दी। इस दौरान उत्तराखंड के मुख्यमंत्री भी त्रिवेंद्र रावत भी मौजूद थे। 

पढ़ें: नियत तिथि 29 अप्रैल प्रात: 6.10 बजे को ही खुलेंगे भगवान केदारनाथ के कपाट

विधानसभा अध्यक्ष प्रेमचंद्र अग्रवाल, कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक, उच्च शिक्षा राज्य मंत्री डॉ धन सिंह रावत, सांसद पौड़ी तीरथ सिंह रावत, विधायक महेंद्र भट्ट, बाबा रामदेव, परमार्थ निकेतन के स्वामी चिदानंद मुनि, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री  के ओएसडी राज भूषण सिंह रावत एवं उत्तर प्रदेश के  एडिशनल रेजिडेंशियल  कमिश्नर सौम्य श्रीवास्तव ने भी समाजसेवी स्व. आनंद सिंह बिष्ट के पार्थिव देह पर पुष्प चक्र अर्पित कर श्रद्धांजलि दी।

पढ़ें: मुख्यमंत्री ने की प्रदेशवासियों से अपील, बोली यह महत्वपूर्ण बातें

वहीँ भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय सह महामंत्री (संगठन) शिवप्रकाश व प्रदेश महामंत्री अजेय आज उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिताजी आनंद सिंह बिष्ट के अंतिम संस्कार में शामिल हुए और पार्थिव देह पर पुष्प चढ़ा कर श्रद्धांजलि दी।

मुख्यमंत्री योगी ने सोमवार को कहा था कि अंतिम संस्कार के कार्यक्रम में लॉकडाउन की सफलता तथा महामारी कोरोना को परास्त करने की रणनीति के कारण भाग नहीं ले पा रहा हूंपूजनीया मां, पूर्वाश्रम से जुड़े सभी सदस्यों से भी अपील है कि वे लॉकडाउन का पालन करते हुए कम से कम लोग अंतिम संस्कार के कार्यक्रम में रहेंपूज्य पिताजी की स्मृतियों को कोटि-कोटि नमन करते हुए, उन्हें विनम्र श्रद्धांजलि अर्पित कर रहा हूं

 

You May Also Like