जनपद प्रभारी मंत्री अरविंद पाण्डेय ने सोमवार को पिथौरागढ़ में कोरोना वायरस की तैयारियों को लेकर की अहम बैठक

पिथौरागढ़: प्रदेश के शिक्षा, खेल, युवा कल्याण और पंचायतीराज मंत्री एवं जनपद प्रभारी मंत्री अरविंद पाण्डेय द्वारा सोमवार को पिथौरागढ़ पंहुचकर जिले में कोरोना वायरस(KOVID-19) के नियंत्रण हेतु की गई तैयारियों के सम्बन्ध में विभिन्न जनप्रतिनिधियों की उपस्थिति में जिले के अधिकारियों के साथ बैठक कर आवश्यक निर्देश दिए। प्रभारी मंत्री ने कहा कि देश में कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलने से रोके जाने हेतु देश के प्रधानमंत्री द्वारा सही समय पर लॉक डाउन का जो निर्णय लिया गया है, वह निश्चित रूप से इस संक्रमण को फैलने से रोकने में कारगर सिद्ध होगा। इस लिए उन्होंने जिले की जनता से अपील की है कि वह लॉक डाउन का पूर्ण अनुपालन कर इसमें सहयोग करें। इसमें जनता जा सहयोग महत्वपूर्ण है।

उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा इस संक्रमण को रोके जाने के लिए जो भी एडवाइजरी जारी की गई है, सभी लोग उसका अनुपालन अवश्य करें तथा धैर्य बनाए रखें। सामाजिक दूरी बनाए रखें।

जनपद प्रभारी मंत्री ने अवगत कराया कि इस घड़ी में वह धैर्य बनाए रखें। सरकार, शासन व प्रशासन द्वारा इस हेतु समुचित ब्यवस्था की जा रही है। खाद्यान्न एवं आवश्यक सामग्री की ब्यवस्था पर्याप्त मात्रा में है। उन्होंने अवगत कराया कि पहाड़ी जनपदों में अतिरिक्त खाद्यान्न की आपूर्ति के लिए सरकारी बफर गोदामों के साथ साथ मैदानी जिलों के बड़े थोक ब्यापारियों से भी वार्ता कर इसकी ब्यवस्था कर ली गई है।

उन्होंने जिलाधिकारी को निर्देश दिए कि जिले में प्रत्येक जरूरत मंद ब्यक्ति को उसके घर तक आवश्यक सामग्री व खाद्यान्न की आपूर्ति की जाय।  आम जनता का जो हक है उसे मिले, इस हेतु समुचित ब्यवस्थाएँ की जाय। सस्ता गल्ला विक्रेता के माध्यम से पीडीएफ का राशन उपलब्ध कराया जाय। उन्होंने कहा कि इस दौरान जिस भी ब्यक्ति द्वारा खाद्यान्न व आवश्यकीय वस्तुओं के वितरण व उपलब्ध कराए जाने में मना की जाती है, या लापरवाही की जाती है, तत्काल उसके खिलाफ आवश्यक वस्तु अधिनियम के अंतर्गत कार्यवाही की जाय।

उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्र की जनता को आवश्यक सामग्री की किसी भी प्रकार की समस्या न हो, इसके लिए स्थानीय ग्राम प्रधानों, क्षेत्र पंचायत सदस्यों, स्थानीय वालिंटियर का सहयोग लेकर गॉव के प्रत्येक ब्यक्ति तक खाद्यान्न आपूर्त की जाय। इस कार्य में ग्रामीण क्षेत्रों में कार्यरत सरकारी विभागों के कार्मिकों की भी मदद ली जाय।

बैठक के दौरान शिक्षा मन्त्री ने कहा कि निकट समय में आवश्यकता पड़ने पर ग्रामीण क्षेत्रों में भोजन की ब्यवस्था के लिए मिड डे मील के अंतर्गत तैनात भोजन माताओं के माध्यम से कराए जाने हेतु वैकल्पिक रूप से तैयारी रखी जाय।

बैठक में जिलाधिकारी ने जनपद प्रभारी मंत्री को जिले में कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए की गई तैयारियां व ब्यवस्थाओं के बारे में जानकारी दी। इस सम्वन्ध में जिले में प्रथम बैठक 27 जनवरी को आयोजित करने के उपरांत जिले की नेपाल सीमा के सभी पांचों झुलापूलों में मेडिकल टीम तैनात कर नेपाल से आने वाले प्रत्येक नागरिक के स्वास्थ्य की जांच कर स्क्रीनिंग की गई। सीमा सील होने से पूर्व लगभग 14 हजार ब्यक्तियों की स्क्रीनिंग की गई। इसके अतिरिक्त नैनीसैनी एयरपोर्ट में भी मेडिकल टीम के माध्यम से स्क्रीनिंग कराई गई। इसके अतिरिक्त जिला स्तर पर जिला चिकित्सालय को कोविड -19 चिकित्सालय बनाया गया है जिसमें अभी 40 बेड तैयार किए गए हैं।आवश्यकता पड़ने पर सभी 120 बेड को लेकर जिला चिकित्सालय में भर्ती मरीजों को निजी चिकित्सालयों में शिफ्ट किया जाएगा जिस सम्बन्ध में सभी निजी चिकित्सालयों में वार्ता हो गई है। इसके अतिरिक्त जिला चिकित्सालय में एक वेंटिलेटर स्थापित है इसके अतिरिक्त 2 वेंटिलेटर सेना चिकित्सालय में है। वर्तमान तक जिले में कुल 285 ब्यक्तियों को होम कोरंटीन किया गया है।कोरोना की तैयारी के संबंध में जिले में एक मॉक ड्रिल भी की गई है।

जिलाधिकारी ने अवगत कराया कि जिला मुख्यालय में प्रेक्षागृह में कोरंटीन बनाया गया है जिसमें 16 बेड लगाए गए हैं। इसके अतिरिक्त विभिन्न टी आर सी व होटलों का अधिग्रहण कर कुल 186 कोरंटीन कक्ष तैयार किए गए हैं। इसके अतिरिक्त जिले में वर्तमान तक 1120 व्यक्तियों के लिए खाद्य सामग्री वितरित किए जाने के साथ ही प्रत्येक तहसील में 500 खाद्य पैकेट बनाए गए हैं। सभी आवश्यक सामग्री के ट्रांसपोर्टेशन हेतु सभी भार वाहक वाहनों को अनुमति जारी की गई है। उन्होंने अवगत कराया कि जिले में लॉक डाउन का पूर्ण पालन किया जा रहा है। इसके अतिरिक्त अप्रैल मांह में सभी खाद्यान्न दुकानों तक जून मांह तक का खाद्यान्न पंहुचा दिया जाएगा। जिलाधिकारी ने अवगत कराया कि जिला मुख्यालय में आईएलएसपी व विभिन्न संगठनों के सहयोग से जरूरत मंदों को पका भोजन भी वितरित किया जा रहा है।
बैठक में अध्यक्ष जिला पंचायत दीपिका बोहरा, विधायक डीडीहाट विशन सिंह चूफाल, चन्द्रा पंत,पुलिस अधीक्षक प्रीति प्रियदर्शिनी, मुख्य विकास अधिकारी वन्दना, अध्यक्ष नगर पालिका राजेन्द्र रावत, भाजपा जिलाध्यक्ष वीरेंद्र वल्दिया समेत अन्य जनप्रतिनिधि व विभिन अधिकारी उपस्थित रहे।

You May Also Like