देहरादून-सेलाकुई ट्रांसपोर्टरों में विवाद, सेलाकुई एसोसिएशन पर अवैध वसूली व मारपीट का आरोप

देहरादून: देहरादून और सेलाकुई के ट्रांसपोर्टरों में एक बार फिर विवाद शुरू हो गया है। ‘ट्रांसपोर्ट वेलफेयर एसोसिएशन देहरादून’ ने ‘सेलाकुई पछवा दून ट्रक ऑनर्स वेलफेयर एसोसिएशन’ पर अवैध वसूली का आरोप लगाया है। वहीँ सेलाकुई एसोसिएशन ने इन आरोपों को बेबुनियाद बताया। मामला फिलहाल पुलिस के संज्ञान में है।

ट्रांसपोर्ट वेलफेयर एसोसिएशन देहरादून के महासचिव राजेश अग्रवाल ने कहा कि, सेलाकुई में यह एसोसिएशन प्रदेश से बाहर के वाहनों को सामान लोड करने के एवज में मोटी रकम वसूलते हैं। साथ ही देहरादून एसोसिएशन के वाहनों को भी सेलाकुई में किसी भी कंपनी के सामान लोड के करने के लिए अवैध रकम जमा करने को कहते हैं, ऐसा न करने पर चालक से मारपीट करते हैं। उन्होंने कहा कि, पूर्व में भी मामले में कानूनी दायरे में समझौता हुआ, लेकिन फिर भी अवैध वसूली का गोरखधंधा धड़ल्ले से चला रहे हैं। एक बार फिर देहरादून एसोसिएशन ने एसएसपी से इसकी शिकायत की है।

वहीँ सेलाकुई पछवा दून ट्रक ऑनर्स वेलफेयर एसोसिएशन के अध्यक्ष गुलफाम ने सभी आरोपों को बेबुनियाद बताया और किसी भी चालक से किसी तरह की मारपीट से भी इनकार किया। उन्होंने कहा कि, क्षेत्र में किसी भी स्थानिय वाहनों को रोका नहीं गया, लेकिन प्रदेश से बाहर के वाहनों का विरोध अवश्य किया गया, क्योंकि इसे स्थानीय लोगों के रोजगार छिन रहे हैं।

मामले में सीओ का कहना है कि, सभी ट्रांसपोर्टरों को सभी क्षेत्रों में व्यापार करने का अधिकार है। यदि किसी को रोका जाता है तो यह गैरकानूनी माना जाएगा। ऐसे लोगों  के खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाएगी।

You May Also Like