जनरल नरवाणे बने नए सेना प्रमुख

नई दिल्ली: थलसेना प्रमुख के पद से रिटायर होने के बाद जनरल बिपिन रावत ने देश की थलसेना की कमान जनरल मनोज मुकुंद नरवाणे को सौंप दी है। जनरल बिपिन रावत अब चीफ ऑफ डिफेंस बन गए हैं । लेफ्टिनेंट जनरल एम एम नरवाणे देश के 28वें थलसेना प्रमुख बन गए हैं । चीन मामलों के जानकार माने जाने वाले लेफ्टिनेंट जनरल मनोज मुकुंद नरवाणे फिलहाल वाईस चीफ के पद पर तैनात थे। नरवाणे वही सैन्य अधिकारी हैं जिन्होनें सेना की पूर्वी कमान के कमांडिंग इन चीफ के पद पर रहते हुए ये कहकर सनसनी फैला दी थी कि अगर ‘चीन हमारी सीमाओं में सौ बार घुसपैठ करता है तो हमारी सेना दो सौ बार करती है ।

 कोलकता स्थित पूर्वी कमान की जिम्मेदारी उत्तर-पूर्व में चीन से सटी सीमाओं की रखवाली है। इस दौरान जनरल बिपिन रावत ने जनरल नरवाणे को बधाई देते हुए कहा कि, सीडीएस के तौर पर वे नए सेना प्रमुख को पूरा सहयोग करेंगे।

साथ ही उन्होंने कहा कि वे चाहते हैं कि जनरल नरवाणे थलसेना के गौरव और प्रतिष्ठा को और उंचाईयों पर ले जाएं। साल 1980 में सेना की सिख लाईट इंफेंट्री से अपने सेवाएं देश को देने वाले लेफ्टिनेंट जनरल नरवाणे इसी साल सितबंर के महीने में सेना के वाईस चीफ बनाए गए थे । इससे पहले वे पूर्वी कमान के कमांडिंग इन चीफ यानि सीइनसी और ट्रेनिंग कमांड के कमांडर भी रह चुके हैं। उन्हें जम्मू-कश्मीर और उत्तर-पूर्व में एंटी-टेरेरिस्ट ऑपरेशंस में भी खासी महारत हासिल है ।

You May Also Like