पौड़ी में पहली मानसून मैराथन का आगाज, ड्रोन कैमरों की निगरानी में रहेंगे धावक

पौड़ीः प्रदेश की पहली मानसून मैराथन का आगाज हो गया है। पौड़ी जिला मुख्यालय में मैराथन का शुभांरभ जिले के प्रभारी मंत्री सुबोध उनियाल ने सुबह 7 बजे कंडोलिया मैदान से प्रतिभागियों को हरी झंडी दिखाकर दौड़ के लिए रवाना किया गया है।उच्च शिक्षा मंत्री डा. धन सिंह रावत ने भी कार्यक्रम में शिरकत की है।

बता दें कि मुख्यालय पौड़ी में जिला प्रशासन व रन टू लिव संस्था की पहल पर पहला मानसून मैराथन तीन वर्गों में आयोजित हो रहा है। मैराथन में उत्तराखंड की माउंट एवरेस्ट विजेता शीतल राज “बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ” का संदेश देगी। मैराथन में विदेशी धावक भी हिस्सा ले रहे हैं।मैराथन की सुरक्षा को लेकर वायलेस सेट के साथ पुलिस टीमें मौजूद रहेगी। मानसून मैराथन तीन वर्गों में आयोजित हो रहा है। इसका पहला ट्रैक पुरुष वर्ग के लिए 21 किमी का है। जो कंडोलिया से शुरु होकर कांसखेत मोटर मार्ग पर शोभा स्थल के समीप से वापस रामलीला मैदान में संपन्न होगा। महिलाओं के लिए 10 किमी का ट्रैक है। सीनियर व जूनियर वर्ग में छात्र-छात्राओं के लिए 4 किमी का ट्रैक बनाया गया है।
इस दौरान कांसखेत मोटर मार्ग पर यातायात पूरी तरह बंद रहेगा। जो आयोजन के संपन्न होने के बाद ही सुचारु होगा। मैराथन के पुरुष वर्ग में पहला स्थान पाने वाले धावक को 50 हजार और महिला वर्ग की विजेता को 25 हजार रुपए प्रथम पुरस्कार प्रदान किया जाएगा। छात्र-छात्रा के सीनियर व जूनियर वर्ग में 5-5 हजार प्रथम पुरस्कार प्रदान किया जाएगा। प्रतियोगिता में 2 लाख 80 हजार नगद पुरस्कार विजेताओं को दिए जाएंगे।

You May Also Like