बिहार में तेजस्वी हैं विपक्ष का चेहरा: कन्हैया कुमार

नई दिल्ली: जेएनयू छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष युवा नेता कन्हैया कुमार ने कहा कि तेजस्वी बिना किसी विवाद के बिहार में विपक्ष का चेहरा हैं। बिहार की जनता उनको विपक्ष के नेता के रूप में स्वीकार कर रही है। बिहार में अगर सत्ता परिवर्तन होगा तो स्वाभाविक तौर पर तेजस्वी बिहार का नेतृत्व करेंगे इसमें कोई दो राय नहीं है। उन्होंने किसानों के मुद्दे, राम मंदिर, राफेल डील आदि को लेकर पीएम मोदी पर भी जमकर हमला किया।

एनडीटीवी के कार्यक्रम हमलोग में बिहार की राजनीति के बारे में बात करते हुए उन्होंने कहा कि बिहार की राजनीति बूढ़ी पीढ़ी के हाथ से निकलकर नौजवान पीढ़ी के हाथ में जा रही है और यह सभी राजनीतिक दलों के अंदर हो रहा है। बिहार की राजनीति के भीतर वामपंथियों का ऐतिहासिक योगदान रहा है। वामपंथियों ने बिहार के अंदर सामाजिक न्याय की लड़ाई को बहुत मजबूती से उठाने में काफी योगदान दिया। अब बिहार के अंदर उसी राजनीति को आगे बढ़ाना है।

जेडीयू में प्रशांत किशोर आने से क्या एनडीए मजबूत हुआ है। इस सवाल के जवाब में कन्हैया कुमार ने कहा कि यह नौजवानों के आकर्षित करने के लिए किया गया है। कन्हैया ने पीएम मोदी पर हमला करते हुए कहा कि मोदी जी को लेकर ज्यादा दूर जाने की जरूरत नहीं है बस सीएम मोदी के सामने पीएम मोदी को खड़ा कर दीजिए। सीएम मोदी जो सवाल पूछ रहे हैं, उसका जवाब पीएम मोदी अगर दें तो सारी चीजें ऐसे ही एक्सपोज हो जाएंगी।

राफेल डील में घोटाले को लेकर लग रहे आरोपों पर कन्हैया ने कहा कि मोदी जी दिवाली मनाने के लिए सैनिकों के पास गए थे कम से उस सैनिक को ही राफेल की कीमत बताते जिसको वह मिठाई खिला रहे थे। कन्हैया ने कहा कि पहले कहा गया है पहले कहा गया कि राफेल विमान हमारे पास नहीं होगा कि तो देश की सुरक्षा व्यवस्था कंप्रोमाइज हो जाएगी, अगर इतना ही महत्वपूर्ण मुद्दा है तो कोई इंसान इसमें चोरी कैसे कर सकता है। कन्हैया कुमार के इस बार लोकसभा चुनाव लड़ने की अटकलें लगाई जा रही हैं। पूरी संभावना है कि वो बिहार के बेगूसराय से सीपीआई के टिकट पर चुनाव लड़ सकते हैं।

You May Also Like