गंगोत्री धाम के कपाट शीतकाल के लिए हुए बंद, अब आगामी छह माह तक मुखबा में श्रद्धालु मां गंगा के कर सकेंगे दर्शन

गंगोत्री: विश्व प्रसिद्ध गंगोत्री धाम के कपाट रविवार को अन्नकूट पर्व पर विधिवत पूजा अर्चना के साथ 12:30 मिनट पर शीतकाल के लिए बंद कर दिए गए। गंगोत्री धाम से पंडित अशोक कुमार सेमवाल ने हमसे बात करते हुए बताया कि इसके बाद मां गंगा की भोग मूर्ति की डोली को मुखबा गांव के लिए 01:00 रवाना किया गया। डोली सोमवार को मुखबा पहुंचेगी। अब श्रद्धालु आगामी छह माह तक मुखीमठ (मुखबा) में ही मां गंगा के दर्शन कर सकेंगे।
यह भी पढ़ें: लोकप्रिय गायिका संगीता ढौंडियाल का नया लोकगीत ‘मेरा पहाड़ूं मां ऐयी रमझमा, जख तांदी झुमेलो रमझमा’ हुआ रिलीज़, मिल रही है खूब सराहना
नवीं बिहार रेजिमेंट के बैंड की धुन और परंपरागत ढोल दमाऊ की थाप के साथ 12: 30 पर तीर्थ पुरोहित गंगा की डोली को लेकर शीतकालीन प्रवास मुखबा गांव के लिए पैदल रवाना हुए। इस दौरान गंगोत्री विधायक गोपाल रावत, डीएम मयूरी दीक्षित, एसपी पंकज भट्ट सहित अन्य लोग मौजूद थे। 
यह भी पढ़ें: मुख्यमंत्री ने उत्तरकाशी में जवानों के साथ मनाई दीपावली, उत्तराखण्ड का सेना एवं अर्द्धसैन्य बलों से रहा है गहरा नाता- मुख्यमंत्री