Oops! It appears that you have disabled your Javascript. In order for you to see this page as it is meant to appear, we ask that you please re-enable your Javascript!

पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस विधायक सत्यजीत बिस्वास की गोली मारकर हत्या

पश्चिम बंगाल: पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) विधायक सत्यजीत बिस्वास की गोली मारकर हत्या कर दी गई। बिस्वास कृष्णागंज सीट से विधायक थे। जानकारी के मुताबिक, सत्यजीत बिस्वास सरस्वती पूजन कार्यक्रम में शामिल होने नादिया पहुंचे थे। यहीं कुछ अज्ञात लोगों ने गोली मारकर उनकी हत्या कर दी। पुलिस में दर्ज एफआईआर में भाजपा नेता मुकुल राय का नाम दर्ज है। अब तक दो लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है। मामले को लेकर राजनीति भी चरम पर है।

मामले में पुलिस ने एफआईआर दर्ज की है। एफआईआर में टीएमसी छोड़ बीजेपी में आए मुकुल रॉय का नाम भी शामिल है। साथ ही हंसखली पुलिस थाने के प्रभारी को भी ससपेंड कर दिया गया है। टीएमसी ने सत्यजीत बिस्वास की हत्या के लिए बीजेपी को जिम्मेदार ठहराया है। पार्टी ने इस मामले को राजनीतिक हत्या करार देते हुए दोषियों के खिलाफ तुरंत कार्रवाई की मांग की है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, सत्यजीत बिस्वास राज्य मंत्री रत्ना घोष और तृणमूल के जिला अध्यक्ष गौरीशंकर दत्ता के साथ फूलबरी में आयोजित सरस्वती पूजा में शामिल होने पहुंचे थे। बदमाशों ने सत्यजीत पर उस वक्त गोलियां चलाईं, जब वह स्टेज से नीचे उतर रहे थे। बताया जा रहा है कि बिस्वास अपनी पत्नी और 7 महीने के बेटे के साथ थे।

तृणमूल कांग्रेस के नेता पार्थ चटर्जी ने कहा कि जिन लोगों उसे मारा है, उन्हें बख्शा नहीं जाएगा। उसकी मौत के लिए जिम्मेदार लोगों को सजा मिलेगी। इस हैरान कर देने वाली घटना के लिए बीजेपी जिम्मेदार है। कुछ गद्दार ह,ैं जिन्होंने उसे मार दिया है। हालांकि, बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने आरोपों को खारिज किया है। घोष ने बिस्वास की हत्या के लिए टीएमसी में गुटीय लड़ाई को जिम्मेदार ठहराया है। उन्होंने कहा कि दोषियों की तुरंत पहचान की जानी चाहिए, और गिरफ्तार कर कड़ी सजा देनी चाहिए।

You May Also Like